अनुसंधान शोध त्रैमासिक: अक्तूबर-दिसम्बर २०१३

05/02/2014, 11:57 pm द्वारा वाङ्मय बुक्स, अलीगढ़ प्रेषित   [ 06/02/2014, 12:01 am अपडेट किया गया ]
अनुक्रम 
anusandhan shod traimasik- vanngmay books aligarh
  • सम्पादकीय
  • हिन्दी के महत्वपूर्ण प्रेम कवि: अशोक बाजपेयी - प्रकाश
  • हिन्दी कथा: उद्भव, परिभाषा एवं स्वरुप - यशपाल सिंह रावत
  • नचिकेता का स्त्री विमर्श - आकाश वर्मा
  • रीतिकालीन समाज में नारी - डॉ. विनीता शुक्ला
  • नारी की मुक्ति - डॉ. गीता सिंह
  • दलित साहित्य और साहित्यकार: एक विवेचनात्मक विश्लेषण - डॉ. अमित शुक्ल
  • प्रेमचंद एवं बामा की कहानियों में दलित - डॉ. सफराम्मा तिरुनेलवेली
  • हबीब तनवीर के नाटकों के संवादों में लोकरंग और बिम्ब योजना - विनीता त्यागी
  • नरेश मेहता की काव्य दृष्टि - डॉ. मंजरी गुप्ता
  • हिन्दी उपन्यासों में ग्रामीण यथार्थ - मोहम्मद साजिद मजीद
  • एक जिंदगी ऐसी भी - प्रा. बाबासाहेब माने
  • महादेवी के काव्य में दार्शनिक चिंतन - अनीता आर्या
  • हिन्दी सूफी काव्य में प्रयुक्त कथानक रूढ़ियाँ - अफ़ज़ाल अहमद
  • महादेवी काव्य में रहस्यानुभूति - विकास कुमार
  • विरक्ति और वैराग्य के विरोध के सन्दर्भ में हज़ारी प्रसाद द्विवेदी का साहित्य - निर्मला देवी
  • नज़ीर अकबराबादी की धार्मिक चिंतनधारा - जाविद अली
  • मनोहर श्याम जोशी के उपन्यासों की व्यंग्यात्मकता - संगम वर्मा
  • मेरी भव बाधा हरो में: परंपरा और स्त्री विमर्श - माला कुमारी
  • नरेन्द्र मोहन: व्यक्तित्व एवं कृतित्व - श्रीमती वनदेवी दु. हुच्चण्णवर 
Keywords : Anusandhan shodh hindi patrika, traimasik, Vangmay Books, Aligarh
Ċ
वाङ्मय बुक्स, अलीगढ़,
06/02/2014, 12:02 am
Comments